Judai Shayari __जुदाई पर 20 बेहतरीन शेर | Sad Shayari

जुदाई पर 20 बेहतरीन शेर

इश्क़-ओ-मोहब्बत में फ़िराक़,

वियोग और जुदाई एक ऐसी कैफ़ियत है जिस में आशिक़-ओ-माशूक़ का चैन-ओ-सुकून छिन जाता है । उर्दू शाइरी के आशिक़-ओ-माशूक़ इस कैफ़ियत में हिज्र के ऐसे तजरबे से गुज़रते हैं, जिस का कोई अंजाम नज़र नहीं आता । बे-चैनी और बे-कली की निरंतरता उनकी क़िस्मत हो जाती है । क्लासिकी उर्दू शाइरी में इस तजरबे को ख़ूब बयान किया गया है । शाइरों ने अपने-अपने तजरबे के पेश-ए-नज़र इस विषय के नए-नए रंग तलाश किए हैं । यहाँ प्रस्तुत संकलन से आप को जुदाई के शेरी-इज़हार का अंदाज़ा होगा ।


Judai Shayari





Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari



Judai Shayari

 

                 

                                                
Judai Shayari


Search This Blog

Pages